मधुमेह: COVID-19 के समय में रक्त ग्लूकोज की निगरानी नियमित रूप से घर पर जरूरी

 रक्त शर्करा की निगरानी कितनी बार की जानी चाहिए? 

नियमित तौर पर:

टाइप 1 मधुमेह के लिए (इंसुलिन की आवश्यकता होती है):

  • पहले दिन में चार बार (भोजन से पहले और सोने से पहले)
  • प्रति दिन कम से कम दो बार- नाश्ते से पहले और भोजन के दो घंटे बाद
  • 1 से 2 बार / सप्ताह (यदि अच्छा नियंत्रण हो)

टाइप 2 मधुमेह के लिए (आमतौर पर आहार और OHA द्वारा नियंत्रित):

  • दिन में दो बार ( नाश्ते से पहले और भोजन के 2-3 घंटे के बाद )
  • अगर नियंत्रण अच्छा है तो सप्ताह में एक बार या हर दो सप्ताह में  

विशेष परिस्थितियाँ:

बीमारी के मामले में या बहुत अधिक तनाव या सामान्य से अधिक व्यायाम के तहत, आपको अपने रक्त शर्करा स्तर की जांच कराने की सामान्य से अधिक आवश्यकता हो सकती है, क्योंकि

  • तनाव, बीमारी या बहुत अधिक भोजन रक्त शर्करा को बढ़ा देता है।
  • व्यायाम और दवाएं रक्त शर्करा को कम कर देती  हैं।
  • भोजन से पहले रक्त शर्करा का स्तर कम होने की संभावना होती है।
  • भोजन के बाद 2 घंटे के लिए रक्त शर्करा का स्तर उच्च होता है।

रक्त शर्करा के आदर्श स्तर क्या हैं?

  • भोजन से पहले रक्त शर्करा का स्तर 6.1 से 8.1 mmol / L और भोजन के बाद 6.0 से 10.0 mmol / L होना चाहिए।
  • भोजन से पहले 8.1 mmol / L से अधिक और भोजन के बाद 11 mmol / L से अधिक होने पर ग्लूकोज का नियंत्रण खराब कहा जाता है।

घर पर रक्त शर्करा के स्तर की जांच करने की विधि?

रक्त शर्करा की जांच करने से पहले बोतल या मीटर पर लिखे निर्देशों का पालन करना जरूरी है

1. रक्त शर्करा की जाँच के लिए आवश्यक वस्तुओं को लें

2. बोतल पर परीक्षण स्ट्रिप्स की समाप्ति तिथियां देखें

3. ग्लूकोज मीटर का अंशांकन पहले से किया जाना चाहिए

  • कोड स्ट्रिप को टेस्ट स्ट्रिप स्लॉट में डालें
  • स्क्रीन पर दिखाई देने वाली संख्या को,  टेस्ट स्ट्रिप्स के बॉक्स की संख्या से मिला लें 

4. हाथ धोने के छह चरणों का उपयोग करके, अपने हाथ ठीक से धोएं

5. लैंसेट डिवाइस तैयार करना 

  • सबसे पहले लैंसेट कवर निकालें और सुई को अंदर डालें
lancet device instructions

  • अब सुई की टोपी को घुमाकर हटा दें लेकिन सुई को छुएं
lancet device instructions

  • लैंसेट कवर को सावधानी से बदलें और त्वचा की मोटाई के अनुसार लैंसेट कवर की गहराई को समायोजित करें
lancet device instructions

  • रीलिज बटन को दबाकर अथवा खींचकर (कुछ उत्पादों के लिएअब लैंसेट डिवाइस की प्राइमिंग करें 
lancet device instructions

6. ग्लूकोज मीटर की तैयारी

कंटेनर से टेस्ट स्ट्रिप निकालें और टेस्ट स्ट्रिप स्लॉट में डालें। यह मीटर को स्वचालित कर देगा

glucose meter preparation

7. अल्कोहल स्वाब लें और तर्जनी / मध्य / अनामिका अंगुली को पोंछें तथा  इसे सूखने दें

blood glucose testing instruction

8. अब लैंसेट डिवाइस को उंगली की तरफ मजबूती से दबाएं

blood glucose testing instruction

9. सुई छोड़ने के लिए बटन दबाएं और रक्त की एक बूंद पाने के लिए अपनी उंगली को निचोड़ें

blood glucose testing instruction

10. अब रक्त की बूंद को परीक्षण पट्टी के अंत में स्पर्श करायें

blood glucose testing instruction

11. पंक्चर वाले जगह को सूखे रूई से साफ किया जाना चाहिए

         blood glucose testing instruction

2. स्क्रीन पर परिणाम देखने के लिए कुछ समय तक प्रतीक्षा करें। यह आपके रक्त शर्करा का स्तर है

blood glucose testing instruction

13. अपनी रक्त शर्करा की डायरी खोलें और परिणाम को नोट कर लेंं

blood glucose testing instruction

14. वस्तुओं को फिर से सुरक्षित रख दें

  • लैंसेट कवर निकालें।
  • पहले सुई को रिकैप करें फिर निकाल दें इस्तेमाल की गई सुई को प्लास्टिक के कंटेनर में फेंक दें और टोपी बंद करें।
  • सुई कंटेनर को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर स्टोर करें।
  • लैंसेट कवर बदलें और ग्लूकोज मीटर को स्टोर करें।
  • अपने हाथों को फिर से साबुन और पानी से धोएं।
end of blood glucose testing

विशेष ध्यान रखने योग्य मुख्य बातें?

  • रक्त शर्करा को नियमित रूप से जांचना चाहिए और परीक्षण की तारीख और समय नोट की जानी चाहिए।
  • सावधान रहें और निर्देशों का सटीक रूप से पालन करें।
  • भोजन से पहले आदर्श रक्त शर्करा का स्तर 6.1 और 8 मिली मोल प्रति लीटर के बीच होता है।
  • यदि आप बीमार हैं या तनाव में हैं, तो आपके रक्त शर्करा का स्तर ऊपर जाने की संभावना है।
  • रक्त ग्लूकोज को सामान्य से अधिक बार जांचना चाहिए, और अगर यह बढ़ता है तो अपने चिकित्सक को दिखायें
  • अपने रक्त परीक्षण की तारीख, समय और परिणाम रिकॉर्ड करना भूलें और अपनी रिकॉर्ड बुक अपने साथ  ले जाएं जब भी डाक्टर के पास जायें
  • अपनी दवाएं समय पर और नियमित रूप से लें।
  • COVID-19 संक्रमण से बचाव के लिए मास्क पहनें, सामाजिक दूरी बनाए रखें, साबुन और पानी से  हाथ धोयें और घर पर रहें।

संदर्भ:



Comments

Popular posts from this blog

Design equations of Rectangular Microstrip Patch Antenna

Spotters in "Hospital Waste Management" for CFM & MPH students

Spotters in "Environment and Health: Mosquito control Measures" for CFM & MPH students

ORS : A boon in dehydration

Spotters in "Environment and Health: Mosquitoes- Anopheles" for CFM & MPH students

Spotters in "Environment and Health: Insecticides" for CFM & MPH students

Spotters in "Nutrition and Health: Balanced diet models" for CFM & MPH students

How to design a reconfigurable antenna? Step-by-step process.